School Holidays: सर्दी के अवकाश के कारण 2 महीने तक स्कूल रहेंगे बंद” – HINDI NEWS12

School Holidays: सर्दी के अवकाश के कारण 2 महीने तक स्कूल रहेंगे बंद”

“2024 के आरंभ में, नए साल के साथ, उत्तर और मध्य भारत में ठंड की लहर बढ़ी है। यह सर्दी का मौसम पूरे देश में महसूस किया जा रहा है, जहां घना कोहरा और कड़ाके की ठंड लोगों के दैनिक जीवन को प्रभावित कर रही है।

विशेष रूप से, स्कूली बच्चे इस गंभीर ठंड से जूझ रहे हैं, जिससे उनकी पढ़ाई में बाधा और बीमारियों का खतरा बढ़ गया है। इसके मद्देनजर, अधिकांश राज्यों के शिक्षा विभागों ने शीतकालीन छुट्टियों की घोषणा की है।

राजस्थान, उत्तर प्रदेश (यूपी), उत्तराखंड, बिहार, मध्य प्रदेश (एमपी), और छत्तीसगढ़ जैसे राज्यों में तापमान 10 डिग्री सेल्सियस से नीचे गिर गया है। दिल्ली में, सुबह का तापमान लगभग 6 डिग्री सेल्सियस रहता है, जिससे घना कोहरा और शून्य दृश्यता की समस्या होती है। इसके चलते, मौसम विभाग ने कुछ राज्यों में रेड अलर्ट जारी किया है।

इन मौसमी परिस्थितियों के आधार पर, शिक्षा विभाग ने कुछ राज्यों में शीतकालीन अवकाश की घोषणा की है। दिल्ली में, मौसम की स्थिति को देखते हुए 8 दिन तक स्कूल बंद रखने का निर्णय लिया गया। उत्तर प्रदेश में भी ठंड बढ़ने के साथ ही तापमान में कमी आई है,

जिससे 31 दिसंबर 2023 से लेकर 14 जनवरी 2024 तक स्कूलों के लिए छुट्टियां घोषित की गई हैं। इस गंभीर मौसम को देखते हुए कई जिलों के जिलाधिकारियों ने भी स्कूल बंद रखने का फैसला किया है।

जम्मू कश्मीर में 2 महीने के लिए स्कूल बंद

इसके अलावा, जम्मू कश्मीर में बच्चों को सबसे लंबी शीतकालीन छुट्टियां मिल रही हैं। यहां दो महीने तक शीतकालीन अवकाश रहेगा। शिक्षा विभाग के आदेशानुसार, 11 दिसंबर 2023 से लेकर 29 फरवरी 2024 तक यहां के स्कूल बंद रहेंगे, जिससे विद्यार्थियों को लगभग दो महीने की छुट्टियां मिलेंगी।

इन छुट्टियों की घोषणा बच्चों की सुरक्षा और उनके स्वास्थ्य को ध्यान में रखकर की गई है। शीत लहर के दौरान बढ़ते तापमान में गिरावट के चलते बच्चों के लिए बाहर निकलना और स्कूल जाना खतरनाक हो सकता है। इसलिए, शिक्षा विभाग ने यह निर्णय लिया है ताकि बच्चों को इस ठंड से बचाया जा सके और उनकी पढ़ाई भी बाधित न हो।

इस प्रकार, शीतकालीन अवकाश की यह घोषणा न केवल बच्चों की सुरक्षा के लिए है, बल्कि यह उनके शिक्षा के हित में भी है। इससे वे ठंड की चपेट में आने से बच सकेंगे और घर पर रहकर अपनी पढ़ाई जारी रख सकेंगे

Views: 2